डा. राजेन्द्र प्रसाद (३ दिसम्बर १८८४ - २८ फरवरी १९६३) भारतक प्रथम राष्ट्रपति छल।[१]भारतीय स्वाधीनता आन्दोलन के प्रमुख नेतासभमे सँ छल, जे भारतीय राष्ट्रिय काङ्ग्रेस के अध्यक्ष के रूपमे प्रमुख भूमिका निर्वाह केनए छल। ओ भारतीय संविधान के निर्माणमे सेहो अपन योगदान देनए छल जेकर परिणति २६ जनवरी १९५० के भारतक एक गणतन्त्र के रूपमे भेल छल। राष्ट्रपति होए के अतिरिक्त ओ स्वाधीन भारतमे केन्द्रीय मन्त्री के रूपमे सेहो किछ समय के लेल कार्य केनए छल। पूरा देशमे अत्यन्त लोकप्रिय होमए के कारण हुनका राजेन्द्र बाबू वा देशरत्न कहि सेहो बजाएल जाइत छल।

राजेन्द्र प्रसाद
Food Minister Rajendra Prasad during a radio broadcast in Dec 1947 cropped.jpg
प्रथम भारतक राष्ट्रपति
प्रधानमन्त्रीजवाहरलाल नेहरू
उपराष्ट्रपतिसर्वपल्ली राधाकृष्णन
पूर्वाधिकारीस्थिति के स्थापना
चक्रवर्ती राजगोपालाचारी भारत के गवर्नर जनरल के रूपमे
उतराधिकारीसर्वपल्ली राधाकृष्णन
व्यक्तिगत जानकारी
जन्म (१८८४-१२-०३)३ दिसम्बर १८८४
जिरादेई, बङ्गाल प्रेजीडेन्सी, ब्रिटिश भारत (अखन बिहारमे)
मृत्यु २८ फरबरी १९६३(१९६३-०२-२८) (७८ वर्ष)
पटना, बिहार, भारत
राष्ट्रियता भारतीय
राजनीतिक दल भारतीय राष्ट्रिय काङ्ग्रेस
जीवनसाथी राजवंशी देवी (मृत्यु १९६२)
अलमा मेटर कलकत्ता विश्वविद्यालय
धर्म हिन्दू

पूर्वजसंपादित करें

डा. राजेन्द्र प्रसाद के पूर्वज मूलरूपसँ कुवागाँव, अमोढा (उत्तर प्रदेश) के निवासी छल। ओ एक कायस्थ परिवारसँ छल। किछ कायस्थ परिवार ई स्थान के छोडि के बलिया जाके बैस गेल छल। किछ परिवार के बलिया सेहो नै भावल एही कारण ओ ओहीय सँ बिहार के जिल्ला सारन के एक ग्राम जीरादेई मे जाके बैस गेल।

सन्दर्भ सामग्रीसभसंपादित करें

  1. The President of India Shri Pranab Mukherjee. Presidentofindia.nic.in. Retrieved on 12 December 2013.

बाह्य जडीसभसंपादित करें