श्री घनश्याम दास बिडला (जन्म-१८९४, पिलानी, राजस्थान, भारत, मृत्यु- १९८३, मुम्बई) भारत के अग्रणी औद्योगिक समूह बी.के.के.एम. बिडला समूहके संस्थापक छल, जेकर परिसंपत्तिसभ १९५ अरब रुपैयासँ अधिक अछि। ई समूहक मुख्य व्यवसाय कपडा, बिस्कुट, फिलामेन्ट यार्न, सीमेन्ट, रासायनिक पदार्थ, बिजली, उर्वरक, दूरसन्चार, वित्तीय सेवा आ एल्युमिनियम क्षेत्रमे अछि, जबकि अग्रणी कम्पनीसभ 'ग्रासिम इन्डस्ट्रीज' आ 'सेन्चुरी टेक्सटाइल' छी। ओ स्वाधीनता सेनानी सेहो छल तथा बिडला परिवारक एक प्रभावशाली सदस्य छल। ओ गान्धीजीक मित्र, सलाहकार, प्रशंसक एवम सहयोगी छल। भारत सरकार सन् १९५७मे उनका पद्म विभूषणक उपाधिसँ सम्मानित केलक। घनश्याम दास बिडलाक निधन जून, १९८३ ई.स. मे भेल छल।

घनश्याम दास बिडला
Ghanshyam das birla Birla mandir 6 dec 2009 (6).JPG
जन्म१० अप्रैल, १८९४
मृत्यु११ जून १९८३
पुरस्कारपद्म विभूषण (१९५७)


बिडलाजी द्वारा दिल्लीमे बनवाएल गेल बिरला मन्दिर, दिल्ली

परिचयसंपादित करें

एक स्थानीय गुरुसँ अंकगणित तथा हिन्दीक आरम्भिक शिक्षा प्राप्त करैके बाद अपन पिता बी.डी. बिडलाक प्रेरणा आ सहयोगसँ घनश्याम दास बिडला कलकत्ता (वर्तमान कोलकाता)मे व्यापार जगतमे प्रवेश केलक। १९१२मे किशोरावस्थामे ही घनश्याम दास बिडला अपन ससुर एम.सोमानीक मदतसँ दलालीक व्यवसाय शुरू करि देलक। १९१८मे घनश्याम दास बिडला ‘बिडला ब्रदर्स’क स्थापना केलक। किछ ही समय बाद घनश्याम दास बिडला दिल्लीक एक पुरान कपडा मिल खरीद लेलक, उद्योगपतिक रूपमे ओ घनश्याम दास बिडलाक पहिल अनुभव छल। १९१९मे घनश्याम दास बिडला जूट उद्योगमे सेहो कदम रखलक। १९२१मे ग्वालियरमे कपडा मिलक स्थापना केलक आ १९२३ सँ १९२४मे ओ केसोराम कटन मिल्स खरीद लेलक।


कार्यसंपादित करें

कृतिसभसंपादित करें

सन्दर्भ सामग्रीसभसंपादित करें

बाह्य जडीसभसंपादित करें

एहो सभ देखीसंपादित करें