रावण रामायणक एक पात्र छी । रावणक दस शिर छल | ओ लंका नामक देशक राजा छल | रावण सृष्टिकर्ता ब्रम्हाक परनाति, पुलस्त्यक नाति आ विस्रवाऋषिक पुत्र छल | ओ शिवक परम भक्त तथा नारायणक कट्टर विरोधी छल | विश्व विजयी रावण वैदिक १० विषय वेदवेदांग (४ वेद ६ शास्त्र)क विद्वान छल । मुदा तबो अभिमान आ नारीक अपमान करला कारण सँ हुनकर पतन भेल |

रावण
देवनागरीरावण
वर्ग:राक्षश
वासस्थान:लंका
जीवनसाथी:मन्दोदरी
वाहन:पुष्पक विमान
पीतल के रथ पर रावण, सियरसोल राजबाड़ी, पश्चिम बंगाल, भारत।

रावणक उदयसंपादित करें

एहो सभ देखीसंपादित करें

बाह्य जडीसभसंपादित करें